Wednesday, May 17, 2017

शिशु का ख्याल रखने पर मिलेगा 6 हजार का लाभ

शिशु का ख्याल रखने पर मिलेगा 6 हजार का लाभ

फतेहाबाद (जेएनएन)। प्रदेश में राष्ट्रीय मातृत्व योजना लागू हो गई है। योजना के तहत गर्भवती महिला को छह हजार रुपये का लाभ मिलेगा। महिला को इसका लाभ तभी मिलेगा जब वह अपने साथ-साथ बच्चे का भी ख्याल रखेगी। संबंध मे महिला बाल एवं विकास विभाग को संबंध में निर्देश जारी हो गए हैं। योजना का लाभ महिला को तीन किस्तों में मिलेगा। दो बच्चों तक ही महिला इस योजना का लाभ ले पाएगी। इस पूरी योजना का लाभ देने की जिम्मेदारी आंगनबाड़ी वर्कर की होगी। आंगनबाड़ी वर्कर संबंधित महिलाओं का रिकॉर्ड दर्ज करेंगी।
गर्भवती महिला को योजना का लाभ तभी मिलेगा जब वह तीन महीने के अंदर प्री रजिस्ट्रेशन करवा लेगी। इसके अलावा तीन महीने में लगने वाले सभी टीकाकरण पूरा कर लेगी। गर्भ अवस्था के चौथे महीने पर महिला के खाते में पहली किश्त के तीन हजार रुपये आ जाएंगे। इसके बाद इंस्टीट्यूट में डिलीवरी होने के बाद महिला के खाते में डेढ़ हजार रुपये आएंगे। तीसरी व आखिरी किस्त का लाभ महिला को एक साल के बाद मिलेगा। ये लाभ तभी मिलेगा जब बच्चा स्वस्थ होगा। आंगनबाड़ी वर्कर शिशु के टीकाकरण कार्ड की जांच करेंगे।
लाभ लेने के लिए इन बातों का रखना होगा ख्याल
योजना का लाभ लेने के लिए बैंक खाता व दंपती को आधार कार्ड देने होंगे। महिला की आयु 19 साल कम से कम होनी चाहिए। इसके अलावा महिला सरकारी कर्मचारी नहीं होनी चाहिए। इसके अलावा ज्वाइंट खाता भी नहीं
होना चाहिए। योजना का लाभ दो बच्चों तक ही मिलेगा। दोनों बच्चे स्वस्थ होने जरूरी हैं।
मातृ-शिशु मृत्यु दर को कम करना लक्ष्य
राष्ट्रीय मातृत्व योजना लागू करने के पीछे मां व शिशु को स्वस्थ रखना है। जिले में मातृ-शिशु काफी अधिक है। पिछले साल गर्भ अवस्था से लेकर डिलीवरी के बाद तक 22 महिलाओं ने दम तोड़ दिया। इसी मृत्यु दर को कम करने के लिए योजना लागू की गई है। इसी के साथ नियम भी लागू किए गए हैं।
राष्ट्रीय मातृत्व योजना की रिपोर्टिंग लागू हो चुकी है। योजना के तहत दो बच्चों तक छह हजार रुपये का लाभ मिलेगा। लाभ तीन किस्तों में दिया जाएगा। अर्बन एरिया में स्वास्थ्य विभाग तथा ग्रामीण क्षेत्र में आंगनबाड़ी के पास रिपोर्ट होगी। लाभ तभी मिलेगा जब महिला गर्भावस्था के दौरान खुद व बाद में शिशु का ध्यान रखेगी।
-ऊषा मुवाल, जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला बाल एवं विकास विभाग
www.kiranbookstore.com

http://kiranprakashan.blogspot.in/
http://spardhaparikshahelp.blogspot.in/
http://advocate-vakil.blogspot.in/
http://bankexamhelpdesk.blogspot.in/
http://kicaonline.blogspot.in/
http://previous-questionpapers.blogspot.in/
http://freecareerhelp.blogspot.com/
http://kiranworkfromhome.blogspot.in/
http://kp-ahmedabad.blogspot.in/
http://kp-pune.blogspot.in/
http://kirancompetitivecurrentevents.blogspot.in/
http://iwantgovernmentjob.blogspot.in/
http://staffselectioncommission.blogspot.in/
http://pradeepclasses.blogspot.in/
http://rajasthan-government-jobs.blogspot.in/
http://medical-government-jobs.blogspot.in/
http://it-government-jobs.blogspot.in/
http://engineering-government-jobs.blogspot.in/
http://mp-government-jobs.blogspot.com/
http://punjab-government-jobs.blogspot.in/
http://tamil-nadu-government-jobs.blogspot.in/
http://karnataka-government-jobs.blogspot.in/
http://up-government-jobs.blogspot.in/
http://west-bengal-government-jobs.blogspot.in/
http://central-government-jobs.blogspot.in/
http://bihar-government-jobs.blogspot.in/
http://gujarat-government-jobs.blogspot.com/
http://maharashtra-government-jobs.blogspot.in/
http://government-jobs-kiran.blogspot.in/
http://sarkari-naukri-kiran.blogspot.in/
http://competitiveexamhelp.blogspot.in/
http://kiraninstituteforcareerexcellence.blogspot.com/
http://mpschelp.blogspot.com/
http://competitivemaths.blogspot.in/
http://competitiveenglish.blogspot.in/
http://competitivecurrentaffair.blogspot.in/
http://reasoningexams.blogspot.in/
http://teacherexams.blogspot.in/
http://policeexams.blogspot.in/
http://railwayexams.blogspot.com/
http://competitivegeneralstudies.blogspot.in/
http://ksbms.blogspot.in/
http://kirancurrentaffairs.blogspot.in/
http://upscmpsc.blogspot.in/
http://www.kirannews.in/
http://www.pratiyogitakiranonline.com/
http://ap-andhrapradesh-jobs.blogspot.in/